जुमे की नमाज के बाद अब पुलिस की उपद्रवियों की धरपकड़ पर फोकस


जुमे की नमाज के बाद अब पुलिस की उपद्रवियों की धरपकड़ पर फोकस

जनपद बुलन्दशहर, नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में प्रदर्शन और बवाल के एक सप्ताह बाद शुक्रवार को सब कुछ सकुशल होने के बाद पुलिस ने चैन की सांस ली है। पुलिस अब शहर की सुरक्षा के साथ-साथ बवाल के आरोपियों की धर पकड़ पर अपना ध्यान केंद्रित करने का मन बना रही है। बता दें 20 दिसंबर को हुए बबाल के बाद अभी तक पुलिस सिर्फ शुरूआती दो दिन में भेजे गए 12 आरोपियों के अलावा अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं कर सकी है। हालांकि अधिकारियों ने आरोपियों को चिन्ह्ति करने की बात कहते हुए कार्रवाई करने के संकेत दे दिए हैं। अवगत करा दें कि 20 दिसंबर को नगर के ऊपरकोट इलाके में नागरिकता संशोधन बिल के विरोध में नमाज के बाद समुदाय विशेष के हजारों लोग एकत्रित हुए थे और अपना प्रदर्शन कर रहे थे। दोपहर करीब पौने तीन बजे कुछ उपद्रवियों ने ऊपरकोट इलाके में पुलिस पर पथराव करना शुरू कर दिया। साथ ही देहात कोतवाल की सरकारी गाड़ी समेत एक स्कूटी को भी जला दिया था इसके अलावा क्षेत्र में खड़ी दर्जनों गाडियों में भी तोड़ फ ोड़ की गई। पुलिस ने मामले में तीन एफ आईआर के माध्यम से 21 नामजद और करीब 700-800 अज्ञात आरोपियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर जांच पड़ताल शुरू कर दी थी। मामले में पुलिस ने शुरूआती जांच के बाद 48 घंटे के भीतर 12 आरोपियों को सलाखों के पीछे पहुंचाया था। रविवार के बाद से पुलिस मामले में कोई गिरफ्तारी नहीं कर सकी। सूत्रों की माने तो पुलिस का पूरा ध्यान 27 दिसंबर की दोपहर होने वाली जुमे की नमाज पर था। जिससे कि फि र से कोई बवाल न हो सके। हालांकि शुक्रवार को सब कुछ सहीं रहने के बाद पुलिस ने राहत की सांस ली है। पुलिस ने अब बलवाईयों की तलाश व उनकी गिरफ्तारी पर फोकस करने के संकेत दिए हैं।

You might also like!

Leave a Comment

Ads
Ads
Ads