उत्तर प्रदेश शासन आलोक सिन्हा द्वारा वाणिज्य कर विभाग गाजियाबाद की समीक्षा कलेक्ट्रेट सभागार में की


उत्तर प्रदेश शासन आलोक सिन्हा द्वारा वाणिज्य कर विभाग गाजियाबाद की समीक्षा कलेक्ट्रेट सभागार में की

जनपद गाजियाबाद उत्तर प्रदेश सरकार के माननीय मुख्यमंत्री के निर्देशानुसार अपर मुख्य सचिव, वाणिज्य कर उत्तर प्रदेश शासन आलोक सिन्हा द्वारा वाणिज्य कर विभाग गाजियाबाद की समीक्षा कलेक्ट्रेट सभागार में की गई। इस समीक्षा बैठक में अपर मुख्य सचिव द्वारा माननीय मुख्यमंत्री जी के सर्वोच्च प्राथमिकता वाले पंजीयन जागरूकता अभियान की प्रगति की अद्यतन कृत कार्यवाही की सूक्ष्मता से समीक्षा की गई तथा भविष्य में इस अभियान को सफल बनाने के लिए आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए। अपर मुख्य सचिव द्वारा बैठक में उपस्थित समस्त डिप्टी कमिश्नर्स व अन्य अधिकारियों को पंजीयन जागरूकता अभियान को सफल बनाने के लिए यह स्पष्ट निर्देश दिए गए कि प्रत्येक अधिकारी के द्वारा उनके क्षेत्र में स्थित प्रत्येक पंजीकृत एवं अपंजीकृत व्यापारियों की मैपिंग निर्धारित समय सीमा में दिनांक 20 जनवरी 2020 तक पूर्ण करा ले तथा दिनांक 25 जनवरी 2020 तक समस्त उच्चाधिकारी किए गए मैपिंग कार्य का सत्यापन भी कर लें। अपर मुख्य सचिव द्वारा यह भी निर्देश दिए गए कि पंजीयन बेस बढ़ाने के लिए यथा आवश्यक अन्य विभागों से भी सूचनाएं संकलित करते हुए उनका उपयोग पंजीयन अभियान को सफल बनाने हेतु किया जाए। यह भी निर्देश दिए गए कि सर्विस सेंटर के ऐसे व्यापारियों को भी पंजीकृत कराया जाए जिनके द्वारा बिना उत्तर प्रदेश राज्य में पंजीयन लिए हुए राज्य में सेवाएं प्रदान की जा रही हैं। समीक्षा बैठक में पंजीयन की प्रगति की समीक्षा के साथ ही राजस्व संग्रह के महत्वपूर्ण बिंदुओं जी0एस0टी0 में रिटर्न फाइल न करने वाले व्यापारियों की अधिकारी वार समीक्षा, दाखिल रिटर्न की स्क्रूटनी, बकाया वसूली तथा सचल दल इकाइयों के कार्यों की भी अधिकारी वार समीक्षा की गई। बैठक में अपर मुख्य सचिव द्वारा बकाया वसूली की कार्यवाही को प्रत्येक अधिकारी के स्तर पर मासिक आधार पर योजनाबद्ध तरीके से बड़े बकायेदारों की प्रोफाईल बनाते हुए किए जाने के निर्देश दिए गए।रिटर्न नॉन फाइलर्स के संबंध में कार्रवाई करते हुए रिटर्न फाइल कर आने के निर्देश दिए गए तथा फाइल किए गए रिटर्न की गहन समीक्षा के भी निर्देश दिए गए। अपर मुख्य सचिव द्वारा प्रवर्तन कार्यों की भी गहन समीक्षा की गई तथा उनके द्वारा जोन में कार्यशील ट्रांसपोर्टर, वाहनों एवं व्यक्तियों को चिन्हित करते हुए उनके विरूद्ध प्रभावी कार्यवाही के निर्देश दिए गए तथा साथ ही जोन के प्रत्येक संभावित मार्ग पर आर0एफ0आई0डी0 टावर लगाने हेतु प्रस्ताव प्रेषित किए जाने के भी निर्देश दिए गए। इस अवसर पर वाणिज्य कर विभाग के वरिष्ठ अधिकारी गण एवं अन्य कर्मचारी गण उपस्थित रहे। राकेश चौहान जिला सूचना अधिकारी गाजियाबाद।

You might also like!

Leave a Comment

Ads
Ads
Ads