गुलमोहर एन्क्लेव में मकर संक्रांति की पूर्व संध्या पर आयोजित किया गया कार्यक्रम


गुलमोहर एन्क्लेव में मकर संक्रांति की पूर्व संध्या पर आयोजित किया गया कार्यक्रम

जनपद गाजियाबाद मकर संक्रांति की पूर्व संध्या पर सोमवार को महानगर के रकेश मार्ग स्थित गुलमोहर एन्क्लेव में धूमधाम से लोहड़ी का पर्व मनाया गया। गुलमोहर आरडब्ल्यूए की ओर से आयोजित कार्यक्रम में एन्क्लेव के सभी लोगों ने जमकर धमाल मचाया। इस अवसर पर एन्क्लेव परिसर में एक स्थान पर आग जलाकर लोगों ने एक दूसरे को रेवड़ी, मूंगफली व पॉपकॉर्न बांटकर एक दूसरे को लोहड़ी की बधाई दी। साथ ही इस मौके पर पंजाबी ढोल व पंजाबी धुनों ने लोगों को झूमने पर मजबूर कर दिया। इस अवसर पर युवाओं ने बुजुर्गों से आशीर्वाद भी लिया। इस मौके पर मौजूद आरडब्ल्यूए के पूर्व अध्यक्ष मनवीर चौधरी ने कहा कि यह हम सभी भारतीयों का त्यौहार है जिसे हम सभी को मिलकर मनाना चाहिए। साथ ही उन्होंने यह भी बताया कि लोहड़ी की रात साल की सबसे लंबी रात होती है, लोहड़ी के अगले ही दिन से दिन लंबे होने शुरू हो जाते हैं। आरडब्लयूए के मीडिया प्रभारी गौरव बंसल ने बताया कि किसानों के लिए भी इस पर्व का विशेष महत्व होता है। इसके साथ ही उन्होंने बताया कि इस त्यौहार से अनेकों रोचक कथाएं भी जुड़ी हुई हैं। कुछ लोगों का मानना है कि दक्ष प्रजापति द्वारा अपनी पुत्री सती का जो अपमान किया गया था उसके प्रायश्चित के रूप में इस त्यौहार को मनाया जाता है। वहीं इस त्यौहार से मुगल शासक अकबर के समय दुल्ला भट्टी नामक एक लुटेरे की भी कथा जुड़ी हुई है जिसने उस समय हिन्दू महिलाओं को गुलाम के रूप में बेचे जाने की जिल्लत से आजादी दिलवाई थी। इस मौके आरडब्ल्यूए के अध्यक्ष सुरेंद्र राजपूत सचिव जी सी गर्ग विनम्र जैन सुनीता भाटिया कमल सूरी पूनम जैन अमित सिंघल गौरव बंसल एक जैन वि दयाल अग्रवाल आदि सैकड़ों संख्या में गुलमोहर वासी मौजूद रहे।

You might also like!

Leave a Comment

Ads
Ads
Ads