हर्षोल्लास के साथ मनाई लोहड़ी व मकर संंक्रान्ति पर्व, किया खिचड़ी का वितरण व बांटी रेवड़ी गज्जक


हर्षोल्लास के साथ मनाई लोहड़ी व मकर संंक्रान्ति पर्व, किया खिचड़ी का वितरण व बांटी रेवड़ी गज्जक

बुलन्दशहर, जनपद बुलन्दशहर में देर शाम सिख समुदाय के लोगों ने सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन कर लोहड़ी पर्व धूमधाम से मनाया वहीं मंगलवार की सुबह से ही मकर संक्रन्ति पर्व अवसर पर लोगों ने खिचड़ी, रेबड़ी गज्जक, मूंगफली आदि का दान कर पुण्य लाभ कमाया तथा कुछ श्रद्वालुओं ने कडक़ड़ाती ठंड में गंगा घाट पर पहुंचकर आस्था की डूबकियां भी लगाई। हालांकि मंगलवार की शाम तक नगर में जगह-जगह समाजसेवियों ने गरीबों को ऊनी वस्त्र के साथ-साथ खाद्यान्न सामग्री का वितरण कर पुण्य लाभ कमाया और लोगों से गरीबों की सेवा करने की भी अपील की। इसी क्रम में भारत विकास परिषद संस्कार गुलावठी के तत्वधान में मकर सक्रांति पर्व के उपलक्ष में पुलाव, बिस्कुट व चाय का वितरण किया गया। कार्यक्रम में मयंक अग्रवाल, आरुषि मोदी, कोषाध्यक्ष पीयूष मित्तल अजय कंसल भाजापा नेता, लोकेश लोधी, अभिनव वर्मा, गोपाल पंडित, मोहनलाल ठेकेदार, रोहित कश्यप, नीरज बंसल, सुनील शर्मा टीटू, भा जा पा नेता हितेश गर्ग, सना हैदर, हिमांशु मोदी, संजीव अग्रवाल, रॉबिंस गर्ग, हर्ष गोयल, मधुसूदन अग्रवाल, गौरव मोदी आदि सदस्यों का योगदान व उपस्थिति रही। उधर खुर्जा के बचपन प्ले स्कूल और सिकंदराबाद मार्ग स्थित एकेडमिक हाईट्स पब्लिक स्कूल में लोहड़ी पर्व धूमधाम और हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। उसके बाद बच्चों ने सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत करके उपस्थित लोगों का मनमोह लिया। इस दौरान छात्रों ने पगड़ी बांधकर कुर्ता-पजामा और छात्राएं पंजाबी सूट में नजर आई। उसके बाद स्कूल प्रबंधन ने अलाव जलाकर उसमें मूंगफ ली, रेवड़ी, गजक आदि की आहूतियां दी और बच्चों को प्रसाद वितरित किया। इसी क्रम में नगर की पंजाबी कॉलोनी में सिख समुदाय के लोगों ने लोहड़ी पर्व पर धूमधाम और एक-दूसरे को गज्जक-रेबड़ी मूंगफली, पॉपकार्न आदि का वितरण भी किया। इस मौके पर लोहड़ी पर्व की विस्तार से जानकारी देते हुए सरदार सवी सिंह ने बताया कि पंजाब में जब रवि की फ सल पकती है तो खुशी में इस त्योहार को मनाते हैं। पंजाबी लोग इसे नववर्ष के रूप में भी मनाते हैं। ये खुशी का एक पवित्र त्योहार है और सिख समुदाय में लोहड़ी के त्योहार का बड़ा महत्व है। ये त्योहार खुशहाली और समृद्धता का प्रतीक है। -दान-पुण्य के लिए बच्चों में भी दिखा आस्था का भाव मंगलवार की सुबह से ही जहां मकर संक्रान्ति पर्व को धूमधाम से मनाने के लिए जहां गृहणी महिलाओं ने सुबह से ही घरों की साफ-सफाई कर गरीबों को दान दक्षिणा देकर पुण्य लाभ कमाया वहीं बच्चों से लेकर बुजुर्गो ने भी सुबह से ही गज्जक-मूंगफली, रेबड़ी आदि की जमकर खरीदारी कर गरीबों को खिचड़ी व खाद्यान्न सामग्री का वितरण किया तथा बच्चों ने अपने माता-पिता व बुजुर्गाे के पैर छुकर आशीर्वाद भी लिया तथा कुछ महिलाओं ने मकर संक्रान्ति पर्व पर अपने मान- मेहमानों व बुजुर्गो को ऊनी वस्त्रों से लेकर मिठाई तक का सामान देकर उनसे सुख समृद्वि का आशीर्वाद लिया। वहीं कुछ बच्चों ने अपने बुजुर्गो के साथ मकर संक्रान्ति पर्व पर गंगा घाट पर पहुंचकर आस्था की डूबकी भी लगाई।

You might also like!

Leave a Comment

Ads
Ads
Ads