जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा लगाये गये साक्षरता शिविर में विकलांगों को बाटी गई छड़ी एवं साईकलें, न्यायालय परिसर में राष्ट्रीय लोक अदालत को सफल बनाने हेतु न्यायिक अधिकारीगण द्वारा एक बैठक का किया गया आयोजन


जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा लगाये गये साक्षरता शिविर में विकलांगों को बाटी गई छड़ी एवं साईकलें, न्यायालय परिसर में राष्ट्रीय लोक अदालत को सफल बनाने हेतु न्यायिक अधिकारीगण द्वारा एक बैठक का किया गया आयोजन

उजाला हितैषी ब्यूरो। बुलंदशहर। विकलांग व्यक्तियों एवं महिलाओं को अनेक योजनाओं का लाभ दिलाने हेतु जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा विकास भवन परिसर में एक साक्षरता शिविर का आयोजन किया गया। जिसमें विकलांगजनों को उनके अधिकार एवं आने की योजनाओं के बारे में अवगत कराया। जिसका लाभ दिलाने के लिए उपस्थित हुए अनेक विकलांग जनों को छड़ी एवं साइकिलें वितरित की गई। उत्तर प्रदेश राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण लखनऊ एवं जनपद न्यायाधीश /अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण बुलंदशहर के कुशल दिशा निर्देशन में 3 दिसंबर 2020 को विश्व विकलांग दिवस के अवसर पर विकास भवन परिसर बुलंदशहर में एक विधिक साक्षरता शिविर का आयोजन किया गया। उक्त शिविर में अशोक कुमार सिंह सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण बुलंदशहर, सर्वेश चंद्र परियोजना अधिकारी (कार्यक्रम मुख्य विकास अधिकारी), नागेंद्र पाल सिंह समाज कल्याण अधिकारी, विनीत कुमार तिवारी पिछड़ा वर्ग अधिकारी, पारसनाथ यादव विकलांग अधिकारी, सत्य प्रकाश शर्मा नामित अधिवक्ता जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, शैलेंद्र कुमार एडवोकेट प्रदेश अध्यक्ष एडवोकेट वेलफेयर एसोसिएशन तथा कुमारी नेहा, गुलबहिस्त, तेजेंद्र सिंह एवं यशपाल सिंह पीएलवी द्वारा भाग लिया गया। जिन्होंने सभी पीएलवी ने साक्षरता शिविर में विशेष योगदान दिया तथा लोगों को विधिक कानूनी सहायता का लाभ उठाने के लिए प्रेरित किया। उक्त आयोजित शिविर में अशोक कुमार सिंह सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण बुलंदशहर द्वारा विकलांगों को मिलने वाली निशुल्क कानूनी सहायता, मानसिक रूप से विकलांग व्यक्तियों के अधिकार, संप्रदायिक सौहार्द, महिलाओं के अधिकार आदि के संबंध में विचार पूर्वक बताया गया तथा सत्य प्रकाश शर्मा नामित अधिवक्ता जिला विधिक सेवा प्राधिकरण बुलंदशहर द्वारा जिला प्राधिकरण द्वारा दी जानेवाली निशुल्क कानूनी सहायता के बारे में विस्तार पूर्वक बताया गया। जिसके पश्चात दोपहर 1:00 बजे न्यायालय कक्ष मोटर दुर्घटना दावा अधिकरण बुलंदशहर में 12 दिसंबर 2020 को आयोजित होने वाली राष्ट्रीय लोक अदालत को सफल बनाने हेतु मोटर दुर्घटना प्रतिकर वादों से संबंधित एक बैठक का आयोजन किया गया, जिसकी अध्यक्षता वीरेंद्र कुमार सिंह पीठासीन अधिकारी मोटर दुर्घटना प्रतिकर दावा अधिकरण बुलंदशहर द्वारा की गई। बैठक में अशोक कुमार सिंह सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण बुलंदशहर एवं मोटर दुर्घटना प्रतिकर वादों तथा बीमा कंपनियों के विद्वान अधिवक्ता उपस्थित रहे। बैठक में आयोजित होने वाली राष्ट्रीय लोक अदालत में अधिक से अधिक वाद लगाए जाने एवं उनके निस्तारण के संबंध में विचार विमर्श किया गया। जिसमें अनेक न्यायिक अधिवक्तागण एवं न्यायिक कर्मचारीगण उपस्थित रहे। अधिक से अधिक लाभ लेने तथा समय और पैसे की बचत करने हेतु और अपने वादों को शीघ्र निस्तारण करने के लिए राष्ट्रीय लोक अदालत में पहुंच कर कराएं समाधान। जिससे न्यायालय में वादों की संख्या में कमी आ सके।

You might also like!

Leave a Comment

Ads
Ads
Ads